बंगाल सरकार ने कहा- Coronavirus से मरे व्यक्ति के दाह संस्कार से संक्रमण का खतरा है या नहीं ??

पश्चिम बंगाल (West Bengal) सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना (coronavirus) संक्रमित के शव के दाह संस्कार (cremation) और दफनाने के दौरान संक्रमण को लेकर उत्पन्न भय को दूर करने के लिए परामर्श जारी किया है. विभाग ने कहा कि ऐसे व्यक्तियों के दाह संस्कार या दफनाने के दौरान संक्रमण का खतरा नहीं है और अधिकारी जरूरी एहतियात बरत रहे हैं.

स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि वायरस के हवा से फैलने की कोई आशंका नहीं है क्योंकि संक्रमण मरीज के छींकने या खांसने से बाहर आए तरल कण से होता है.

परामर्श में कहा गया, ‘‘दाह संस्कार के दौरान 800 से 1000 डिग्री सेल्सियस तक तापमान होता है जिसमें वायरस प्रभावी नहीं रह सकता. अभी तक ऐसा कोई सबूत नहीं मिला है कि शव जलाने के दौरान होने वाले धुंए से कोरोना वायरस फैलता है.’’

बयान में कहा गया कि अगर मानक एहतियात का अनुपालन किया जाता है तो निश्चित रूप से संक्रमित व्यक्ति के शव से स्वास्थ्य कर्मियों, परिवार के सदस्यों या इलाके के लोगों में संक्रमण का खतरा नहीं है.’’

स्वास्थ्य विभाग ने इसके साथ ही विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) को भी उद्धृत किया जिसके मुताबिक संक्रमित के शव के संपर्क में आने से कोरोना वायरस का संक्रमण होने का मामला प्रकाश में नहीं आया है.

परामर्श में कहा गया कि केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी ‘‘कोविड-19 शव प्रबंधन दिशानिर्देश’’ के अनुरूप अंतिम संस्कार के दौरान सभी एहतियात लिए जाने चाहिए. इसलिए स्पष्ट है कि अगर कोविड-19 के शव को ले जाने और अंतिम संस्कार करने के मानकों का पालन किया जाता है तो संक्रमण का कोई खतरा नहीं है.’’

उल्लेखनीय है कि 23 मार्च को कोलकाता के नीमताला इलाके में स्थानीय लोगों ने कोरोना वायरस संक्रमित के शव का नजदीकी शमशान भूमि में अंतिम संस्कार कराने का विरोध किया था और सरकारी अधिकारियों को ऐसा करने से रोक दिया था.

वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को दो घंटे लगे स्थानीय लोगों को अंतिम संस्कार के लिए मनाने में. इस बीच, कोलकाता नगर निगम ने धापा और तोपसिया स्थित दो शव दाह गृह भट्टी और बाघ्मरी स्थित कब्रिस्तान को कोरोना वायरस संक्रमितों के शव को दफनाने के लिए आरक्षित किया है.

SOURCE – ZEE NEWS 

Share On
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *