जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के सांबा जिले (Samba District) में अंतरराष्ट्रीय सीमा (International Border) पर बीएसएफ (BSF) ने भारी हथियारों से लैस पांच आतंकवादियों की घुसपैठ की कोशिश नाकाम की. सीमा सुरक्षा बल (Border Security Force) के अधिकारी ने मंगलवार को ये जानकारी दी. अधिकारी ने बताया कि 14-15 सितंबर की दरम्यानी रात बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स के जवानों ने पाकिस्तान की तरफ से हो रही घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया.

अधिकारी ने बताया कि आतंकियों की ये घुसपैठ पाकिस्तानी रेंजर्स की मदद से हो रही थी. बीएसएफ के पीआरओ ने बताया कि सीमा सुरक्षा बल के सैनिकों की ओर से की गई भारी फायरिंग के चलते आतंकी इस कोशिश में नाकाम हो गए और भागकर पाकिस्तानी क्षेत्र में चले गए. बता दें पाकिस्तान हर साल सर्दियों से पहले आतंकियों की घुसपैठ कराने की कोशिश करता है. आतंकियों की इस घुसपैठ के लिए पाकिस्तानी रेंजर्स सीमा पर अकारण गोलीबारी कर या सीज़फायर उल्लंघन कर भारतीय सैनिकों का ध्यान भटकाने की कोशिश करते हैं. हालांकि भारतीय सैनिकों की मुस्तैदी के चलते वह अक्सर अपने मंसूबों में नाकामयाब हो जाते हैं.

अल-बद्र के आतंकवादियों के दो सहयोगी गिरफ्तार
एक अन्य घटना में सुरक्षा बलों ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले (Pulwama District) में आतंकवादियों के दो भूमिगत सहयोगियों को गिरफ्तार कर छह लाख रुपये जब्त किये हैं, जिन्हें आतंकवादी संगठन अल-बद्र (Al Badr) को दिया जाना था. पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, ‘पुलिस और सुरक्षा बलों ने खुफिया सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए आज सुबह लाढू क्रॉसिंग पर आतंकवादियों के दो सहयोगियों को गिरफ्तार कर लिया जब वे दोनों स्कूटर पर शोपियां जिले से पुलवामा के ख्रू इलाके में आ रहे थे.’
उन्होंने कहा कि गिरफ्तार लोगों की पहचान रईस-उल-हसन और मुश्ताक अहमद मीर के रूप में हुई है. दोनों जिले के अवंतीपुरा इलाके के निवासी हैं.

छह लाख भारतीय रुपये भी बरामद
अधिकारी ने कहा कि उनके पास से प्रतिबंधित संगठन अल बद्र से संबंधित सामग्री मिली है, जिसमें छह लाख रुपये की भारतीय मुद्रा भी शामिल है. उन्होंने कहा कि अपराध के लिये इस्तेमाल किया गया स्कूटर भी जब्त कर लिया गया है. साथ ही इस संबंध में ख्रू थाने में गैर-कानूनी गतिविधियां कानून की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

इस बीच सोमवार और मंगलवार की मध्यरात्रि गंदेरबल जिले से हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादियों के तीन सहयोगियों को गिरफ्तार किया गया. अधिकारी ने कहा कि गिरफ्तार किये गए मॉड्यूल के सदस्यों को उनके पाकिस्तानी आकाओं ने आतंकवाद में शामिल होने और इलाके के सुरक्षा बलों पर हमले करने का निर्देश दिया था. उन्होंने कहा, ‘पूछताछ के दौरान तीनों ने तीन हथगोलों के बारे में बताया, जिन्हें उनकी निशानदेही पर बरामद कर लिया गया.

SOURCE – NEWS18 

Share On
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *